Wednesday, February 21, 2024
HomeBeauty tipsDark Lips Home Remedies - काले होठों का कारण, बचाव और उपाय

Dark Lips Home Remedies – काले होठों का कारण, बचाव और उपाय

होंठ काले होने के मुख्या कारण-

सबसे पहले, आइए चर्चा करते हैं कि काले होंठ क्यों होते हैं।   और उनके कारण क्या होते हैं।    यदि हम कारणों के बारे में बात करते हैं,   तो आइए पहले बाहरी कारकों के बारे में चर्चा करें।   और उनके होठों पर क्या दुष्प्रभाव हैं।

 

 

उत्पादों का होठों पर दुष्प्रभाव।

बाहरी कारक धूम्रपान और तंबाकू चबाना हैं।  ये दोनों आपके होठों को काला कर सकते हैं।  

धूम्रपान में मौजूद रसायन और निकोटीन आपकी रक्त वाहिकाओं को संकुचित कर देते हैं।    जिससे आपके होठों की त्वचा को उचित ऑक्सीजन की आपूर्ति नहीं हो पाती है।    यह काले और बैंगनी दिखने लगते हैं ।  यदि आप लिपस्टिक का उपयोग कर रहे हैं ।    जो लंबे समय तक टिकी रहती है।    होठों का रंग काला कर सकता है।   अगर आपको अपनी लिपस्टिक में मौजूद किसी केमिकल से एलर्जी है।    तो यह डार्कनेस का कारण बन सकता है ।

 

जब हम एलर्जी के बारे में बात करते हैं ।  तो यह केवल से लिपस्टिक या किसी सौंदर्य प्रसाधन से हो जरुरी नहीं है ।  आपको टूथपेस्ट से भी एलर्जी हो सकती है जिसका आप उपयोग करते हैं।  पहले आपके होंठ लाल हो जाते हैं और फिर सूख जाते हैं, बाद में काले हो जाते हैं।

 

 

Dark Lips Home Remedies - काले होठों का कारण, बचाव और उपाय

 

 

दवाओं का होठों पर दुष्प्रभाव।

 

एटोपिक व्यक्तियों में ये एलर्जी अधिक आम है।   एटोपिक व्यक्ति वह होता है जिसकी त्वचा और होंठ हमेशा शुष्क रहते हैं।    ऐसे लोगों में एलर्जी होने की संभावना अधिक होती है।   बहुत अधिक होंठ चाटने से भी आपके होंठ रूखे हो सकते हैं।    जिससे आपके होंठ काले हो जाते हैं।

 

होठों के काले होने का अगला अहम कारण दवा है।    मलेरिया रोधी दवाओं, आइसोट्रेटिनॉइन, मिनोसाइक्लिन, कैंसर रोधी दवाओं जैसी दवाओं का उपयोग आपके होठों को काला भी कर सकता है।    निकोटिन आपकी त्वचा में मेलेनिन की मात्रा को भी बढ़ाता है।    जिससे आपके होंठ काले दिखाई देने लगते हैं । 

 

 

सूर्य और कॉस्मेटिक्स का होठों पर प्रभाव

अगला कारण है सूर्य का एक्सपोजर।    यदि आप बहुत अधिक सूर्य के संपर्क में हैं।    जैसे आपकी त्वचा पर टैनिंग हो जाती है।    सूरज के संपर्क में आने से आपके होंठ भी टैन हो जाते हैं।  होठों के काले होने का अगला अहम कारण है कॉस्मेटिक्स।    ऐसे मामलों में, होठों की त्वचा शुरू में लाल दिखाई देती है।   और धीरे-धीरे यह गहरे रंग की हो जाती है ।

 

 

अगला महत्वपूर्ण कारण त्वचा रोग हैं

कुछ त्वचा रोग हैं जिनके कारण आपके होंठ काले हो सकते हैं।  इन्हीं बीमारियों में से एक है हरपीज इंफेक्शन।    यह एक वायरल संक्रमण है जिसमें होठों के पास की त्वचा पर छाले दिखाई देते हैं।    जब ये अल्सर समय के साथ ठीक हो जाते हैं,   तो यह आपके होंठों को काला कर सकता है।  

 

इस चर्म रोग के अलावा एक और चर्म रोग है जिसे लाइकेन प्लेनस के नाम से जाना जाता है।    इसमें आपके शरीर और होठों पर बैंगनी रंग के घाव दिखाई देते हैं।    जिसके कारण होंठ भी काले हो जाते हैं। 

 

 

अन्य कारण जो होठों को काला कर सकते हैं

 

इनके अलावा अनुवांशिक कारणों से भी होंठ काले हो सकते हैं।    आपके शरीर में आयरन की कमी या आयरन की वृद्धि भी आपके होंठों को काला कर सकती है।    होठों के काले होने का एक और कारण है।    विटामिन बी-12 की कमी है। 

 

 

बचाव

 

आइए अब हम काले होंठों के उपचार के विकल्पों के बारे में चर्चा करते हैं।    अगर हम काले होठों के उपचार के बारे में बात करते हैं, तो सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि उचित मॉइस्चराइजिंग है।    अपने होठों और धूप के संपर्क से बचें।  सबसे अच्छा तरीका होंठ बाम का उपयोग करना है।    जिसमें एसपीएफ़ होता है।  अ  पने होठों को धूप से बचाने के लिए कम से कम एसपीएफ 15 वाले लिप बाम का इस्तेमाल करें।  अपने होठों को मॉइस्चराइज़ करने से यह रूखे होने से बचेंगे।   और आपके होंठ कम काले दिखाई देंगे।

 

इन सबके अलावा अगर आपको किसी अन्य चीज से एलर्जी है।  जैसा कि सौंदर्य प्रसाधनों में लिपस्टिक या टूथपेस्ट।    तो आपको डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।    एलर्जी के कारण की पहचान करने के लिए डॉक्टर कुछ परीक्षण करेंगे।   और उसी के अनुसार आपका उपचार करेंगे   

 

 

इन चीजों से बचें

यदि आप पहले बताए गए कारणों से होठों के कालेपन से पीड़ित हैं।    तो आप होंठों का कालापन दूर करने के लिए कोशिश कर सकते हैं।    जिन चीजों को आपको सबसे पहले छोड़ना है वह है धूम्रपान।  अगर आप धूम्रपान करते हैं या तंबाकू चबाते हैं।    और आपके होंठ काले हैं।     तो आपको इनका सेवन बंद कर देना चाहिए।    इससे आपको अवश्य लाभ होगा।

 

जो लोग लंबे समय तक टिकने वाली लिपस्टिक का इस्तेमाल करते हैं।    उन्हें होंठों के कालेपन से बचने के लिए इनका इस्तेमाल बंद कर देना चाहिए।    अगर आपको बार-बार होंठ चाटने की आदत है।    तो आपको इसे बंद कर देना चाहिए क्योंकि इससे आपके होंठ सूख जाते हैं।    और धीरे-धीरे आपके होंठ काले हो जाते हैं ।

 

 

चिकित्सकीय उपचार

 

अगर काले होठों के इलाज के बारे में करें।    तो डॉक्टर द्वारा प्रदान किया जाने वाला पहला उपचार हैं- स्किन लाइटनिंग क्रीम का इस्तेमाल।    त्वचा को गोरा करने वाली इन क्रीमों को कुछ सकारात्मक दिखाने में कम से कम 4 से 6 महीने लगेंगे ।

 

 

आपके होठों पर परिणाम।

जब भी आप अपने काले होठों का इलाज शुरू करें।    कृपया ध्यान रखें कि इसमें समय लगेगा।    होठों के कालेपन से छुटकारा पाने के लिए 4 से 6 महीने।   सर्वोत्तम परिणामों के लिए आपके चिकित्सक द्वारा निर्धारित नियम का पालन करें ।

 

काले होठों के लिए एक अन्य उपचार विकल्प रासायनिक छिलके हैं।    केमिकल पील एक ऐसा घोल है जो आपकी त्वचा पर एक निश्चित समय के लिए लगाया जाता है।  जिसके बाद उसमें मौजूद पिगमेंट समेत त्वचा की मृत परत हट जाती है।    और जब रंगद्रव्य हटा दिया जाता है तो त्वचा चमकदार दिखाई देती है।  केमिकल पील सेशन हर दो हफ्ते में एक बार किया जाता है ।    और आपको कम से कम 6-7 लेना होगा ।    होठों पर इस्तेमाल होने वाले छिलके बहुत हल्के होते हैं ।    जैसे आर्जिनिन पील, लैक्टिक एसिड पील, मैंडेलिक एसिड छील, ग्लाइकोलिक एसिड छील।

 

इनके अलावा, काले होंठों के उपचार में भी लेजर का उपयोग किया जाता है।    इसमें सबसे महत्वपूर्ण लेजर QS: NDYAG लेजर है।  यह लेज़र आपकी त्वचा में मौजूद मेलेनिन को नष्ट कर देता है ।    और आपका शरीर इन्हें अपने आप हटा देता है।    इनमें से आपको कम से कम 6 से 8 सेशन 1 महीने के गैप के साथ करने होंगे।    परिणाम दिखने में 7 से 8 महीने का समय लगता है।

 

 

काले होठो का घरेलु उपाय

 

आइए आज जानते हैं होंठों के कालेपन को दूर करने के कुछ घरेलू उपाय के बारे में।   अगर हम घरेलू नुस्खों की बात करें ।    तो सबसे पहली चीज जो आती है वह है लिप मॉइस्चराइजेशन ।    आप घरेलू उत्पादों का उपयोग करके अपने होंठों को मॉइस्चराइज़ कर सकते हैं।

 

काले होठों के घरेलू उपचार के रूप में सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला उत्पाद घी या नारियल का तेल है।   इनके इस्तेमाल से आपके होंठ नमीयुक्त और मुलायम रहेंगे।  आप अपने होठों को मॉइस्चराइज़ करने के लिए पेट्रोलियम जेली भी लगा सकते हैं।   मॉइस्चराइजेशन के अलावा एक्सफोलिएशन भी बहुत जरूरी है।   आप घर पर ही चीनी के क्रिस्टल को मिलाकर एक्सफोलिएशन के लिए होंठों का घोल बना सकते हैं । 

शहद और नींबू का रस।  आप इस घोल का इस्तेमाल अपने होठों पर 2 से 5 मिनट तक स्क्रब करने के लिए कर सकते हैं ।   फिर धो लें ।   एक्सफोलिएशन के लिए आप दूध से संबंधित उत्पादों जैसे दही का भी उपयोग कर सकते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments