Wednesday, May 15, 2024
HomeQuit SmokingHow to Quit Smoking - बिना Craving धूम्रपान कैसे छोड़े?

How to Quit Smoking – बिना Craving धूम्रपान कैसे छोड़े?

धूम्रपान का हमारी सेहत पर इतना बुरा प्रभाव पड़ता है यह सभी जानते हैं । धूम्रपान को सिगरेट बीड़ी तंबाकू या पान मसाला किसी भी रूप में लिया जाए, यह हमारी सेहत पर मानसिक और शारीरिक दोनों पर भी बुरा असर करता है ।


आपने बहुत से विज्ञापनों में, फिल्मों में या फिर सिगरेट बीड़ी के पैकेट पर भी लिख भी देखा होगा । कि किस प्रकार की खतरनाक बीमारिइसे इन चीजों से होती है ।

how to quit smoking | धूम्रपान कैसे छोड़े


इस विषय पर जाते हुए हम सीधा काम की बात करते हैं । अगर हम धूम्रपान को छोड़ना चाहते हैं , तो किस प्रकार छोड़ें । बहुत से लोग बोलते हैं, कि हम छोड़ना तो चाहते हैं मगर छूट नहीं रही है ।


आगे हम आपको कुछ स्टेप्स बताएंगे,जिनको अगर आप फॉलो करेंगे, तो इस बुरी आदत को छोड़ना काफी हद तक आसान होगा ।

छोड़ने का दिन निश्चित करें ।

सबसे पहले ऐसी तारीखतय करें जब से आदत को छोड़ना चाहते हैं । आमतौर पर एक 2 हफ्ते बाद या 3 हफ्ते बाद की होनी चाहिए । यानी कि आपने अगर आज फैसला किया कि आप इस आदत को छोड़ने के लिए प्रतिबद्ध है । तो छोड़ने का दिन 2 से 3 हफ्ते के बाद का रखें ।

How to Quit Smoking

यह तारीखआप कुछ विशेष दिन को भी चुन सकते हैं । जैसे कि आपका जन्मदिन, आपके बच्चे का जन्मदिन या नववर्ष का दिन । कोई भी विशेष दिन हो सकता है । अगर आप किसी विशेष दिन को इसके लिए चुनेंगे तो आपकी इस आदत को छोड़ने की संभावना ज्यादा होगी ।

अपना फैसला सबको बताएं ।

एक बार आपने इस आदत को छोड़ने की तारीख तय कर ली, छोड़ने का फैसला कर लिया । उसके बाद आप अपना निर्णय अपने दोस्तों को, परिवार वालों को और अपने जानने वालों को बता दे । ऐसा पाया गया है कि जब इस बारे में हम बात करते हैं और अपना लेने सब कुछ सुना देते हैं । तो मनोवैज्ञानिक स्तर पर एक दबाव बन जाता है । और यह आदत छोड़ने की संभावना बढ़ जाती है । How to Quit Smoking – Bina craving dhumrapan kaise chhode

निकोटिन फ्रीडिंग टेक्निक ।

हमें अब कोशिश करनी है कि जितनी निकोटिन की मात्रा हम अभी तक ले रहे थे वह मात्रा कम करनी शुरू कर दें । हमारा टारगेट होना चाहिए कि 2 या 3 हफ्ते की निश्चित अवधि आते-आते धूम्रपान की मात्रा लगभग आधी रह जाए । अगर आप रोज 10 सिगेरट पीते हैं । तो 15 दिन आते आते उसकी मात्रा 5 ही रह जानी चाहिए ।

मेडिकेशन – दवाइयां ।

आजकल बहुत सी दवाइयां बाजार में उपलब्ध है जो धूम्रपान छुड़ाने में सहायक होती है । आप इन दवाइयों का सेवन आज से ही अपने निर्धारित तिथि से लगभग 15 दिन पहले शुरू कर सकते हैं ।

How to Quit Smoking – Bina craving dhumrapan kaise chhode


आखिर में बात आती है कि हमें एक तिथितो निर्धारित कर ली, और निर्धारित तिथि भी आ गई । अब क्या करना है ? अब आपको सबसे पहले जितनी भी चीजें जो धूम्रपान से संबंधित है, जो सिगरेट और तंबाकू से जुड़े हुए हैं , उन सबको आपको अपने आसपास से पूरी तरह से दूर हटा देना है । जैसे कि एस्ट्रे लाइटर सिगरेट की डिब्बी माचिस इत्यादि ।


धूम्रपान छोड़ना तो बहुत आसान है, लेकिन धूम्रपान छोड़े रखना बहुत मुश्किल है । आपने दृढ़ निश्चय से सिगरेट छोड़ दी । लेकिन अगले दिन जब आप ऑफिस जाएंगे या अपने धूम्रपान करने वाले दोस्तों से मिलेंगे । आपका फिर से मन करेगा धूम्रपान करने का । “एक सिगरेट पी लेता हूं क्या फर्क पड़ता है” मन को कैसे रोका जाए यह बहुत महत्वपूर्ण है ।


मन और तलब को रोकने के लिए आप पांच D का इस्तेमाल कर सकते हैं ।

1. Delay – टालना

Delay – टालना
जब भी मन में फिर से सिगरेट पीने की तलब उठती है तो वह एक लहर की तरह होती है । जो आती है , बढ़ती है, बहती है और फिर कम होकर खत्म हो जाती है । विज्ञान और रिसर्च ऐसा कहते हैं कि हम अगर 3 से 5 मिनट तक अपनी तलब रोकपाए । तो तलब का स्तर या लेवल काफी हद तक कम हो जाता है । उसके बाद उस को कंट्रोल करना आसान हो जाता है ।

2. Destraction – ध्यान बंटाना

Destraction – ध्यान बंटाना
जिस वक्त मन में तलब उठे उस वक्त आप जहाँ भी बैठे हैं । जो भी कर रहे हो । उस काम को छोड़कर , कुछ और करें या वहां से थोड़ा दूर चले जाए । कोई संगीत सुनें । किसी से बात करें या कुछ भी उससे अलग करें । विशेष बात यह है कि आप अपने मन को कुछ विशेष स्थिति से हटाना है ।

3. Deep Breathin – लंबी गहरी सांस लें

जब भी आपको तलब लगे आपको लंबी गहरी सांसें लेने हैं । आपको 1, 2, 3 गिनते हुए सांस अंदर खींचनी है और फिर 1, 2, 3, 4, 5 गिनते हुए साथ बाहर निकालनी हैं । ध्यान रहे कि साँस नांक से अंदर खींचनी है और मुंह से बाहर निकालने हैं । जब हम गहरी लंबी सांस लेते हैं तो हमारा दिमाग काफी हद तक शांत हो जाता है ।

4. Drinking – खूब पानी पिए

जिस वक्त आप सिगरेट छोड़ने का प्रयास कर रहे हैं । उस वक्त आप अपने पानी पीने की मात्रा बढ़ा दें । जितना ज्यादा आप पानी पिएंगे उतना ही अच्छा रहेगा । ज्यादा पानी पीने से निकोटिन हमारे शरीर से बहकर बाहर निकल जाता है ।

5. Discussion -सलाह करें

आपको तलब लगी है । सिगरेट पीने का मन कर रहा है । तो आप तुरंत अपने परिवार वालों से, दोस्तों से या अपने जानने वालों से इस बारे में बात करें । उन्हें बताएं कि आपका किस प्रकार फिर से सिगरेट पीने का मन कर रहा है । इस प्रकार बात करते हुए आपका तलब का वह समय निकल जाएगा और आप देखेंगे कि आपकी तरफ उस वक्त काफी हद तक कम हो गई है ।


दोबारा शुरू क्यों करते हैं?

अक्सर देखा गया है कि सिगरेट छोड़ देते हैं । लेकिन एक हफ्ता 15 दिन या 1 महीने बाद वापस सिगरेट पीना शुरू कर देते हैं । ऐसा क्या होता है और इससे किस प्रकार बचा जा सकता है ?

बायोलॉजी और साइंस के अनुसार अगर हम किसी और को धूम्रपान करते हुए देखते हैं । तो हमारे दिमाग में कुछ केमिकल निकलते हैं । जो कि एकदम से हमारी तलब को बढ़ा देते हैं । और उन्ही कमजोर फलों में हम फिर से धूम्रपान करना शुरू कर देते हैं । और एक बार शुरू कर दिया तो वह बढ़ता ही चला जाता है । जब तक कि हम वापस उसी स्थिति में ना पहुंच जाएं जितना कि पहले धूम्रपान किया करते थे ।

कुछऔर परिस्थितियां भी हैं जिन्हें हम दोबारा धूम पा सकते हैं । जैसे कि कोई सुखद भावना(Happy moment) , कोई दुखद भावना (sad moment) कोई विशेष उत्सव (celebration) या कोई विशेष परिस्थिति । ऐसी किसी भी परिस्थितियों में खुद को सावधान रखना है । वह विशेष परिस्थिति या भावना तो आ कर चली जाएगी । लेकिन अगर आपने उस पल में एक भी सिगरेट पी ली तो आपको उसे फिर से छोड़ने में शुरू से उतनी ही मेहनत करनी पड़ेगी ।

आमतौर पर कुछ लोग धूम्रपान छोड़ने के बाद शराब या किसी और नशे के साथ दोबारा से धूम्रपान शुरू कर देते हैं । कई बार आप कभी अपने घर पर बैठे हैं या बोर हो रहे है । कुछ समझ नहीं आ रहा । तो बाहर जाकर सिगरेट ले आए और धूम्रपान शुरू कर दिया । ऐसी परिस्थितियों से बचें ।
यह कुछ साधारण बातें हैं जिसमें लोग दोबारा धूम्रपान शुरू कर देते हैं । हर व्यक्ति का अलग-अलग कारण हो सकता है ।

दोबारा शुरू करने से कैसे बचे ।

जब हम कोई भी नशा छोड़ते हैं । उस समय हमारा दिमाग थोड़ा सा कमजोर और दुखी होता है । ऐसा लगता है जैसे जिंदगी का कोई अहम हिस्सा ही जिंदगी से अलग हो गया है । ऐसे में जब हम दूसरों को ऐसा करते हुए देखते हैं । तो लगता है कि वह बहुत खुश है और हम बहुत दुखी हैं । जितना हो सके कुछ समय के लिए ऐसे लोगों से दूर रखें जो अभी भी स्मोकिंग करते हैं ।

धूम्रपान करते समय सिर्फ निकोटीन की लत नहीं लगती । इस बात की भी लगती है कि हम किसी चीज को बार बार अपने मुंह में ले रहे हैं । इसलिए जब भी सिगरेट छोड़ते हैं तो हमें इस आदत का भी अविकल्प(alternative) अपने शरीर को देना होगा । जैसे की हम अपने मुंह में सिगरेट न रखकर कोई चिंगम या माउथ फ्रेशनर रख सकते हैं । जिससे हमारे शरीर को जो आदत पड़ी हुई है वह बाधित (disturb) ना हो इसे अल्टरनेटिंग द हैबिट (Alternating the Habit) भी कहा जाता है ।

खुद को पुरस्कृत करें ।

जितने पैसो की आप रोज रोज सिगरेट पीते हैं, इतने पैसों से रोज शाम को, हफ्ते में एक बार या महीने में एक बार खुद के लिए कुछ अच्छा या कोई गिफ्ट ले । और महसूस करें कि सिगरेट पीकर मिलने वाली खुशी या आराम में और उसी पैसे से कोई गिफ्ट या कोई उपहार खरीद कर मिलने वाली खुशी में कितना अंतर है ।

व्यायाम करें ।

ऐसा पाया गया है कि धूम्रपान छोड़ने के बाद भूख बढ़ जाती है । मन में डिप्रेशन जैसा रहने लगता है । व्यायाम से इन दोनों समस्याओं का निदान होगा । व्यायाम से शरीर स्वस्थ होगा और मूड भी अच्छा रहेगा ।

शरीर अच्छा तो मन अच्छा मन अच्छा तो जीवन अच्छा ।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here


Most Popular

Recent Comments